तुलसी के पौधे के पास भूल से भी ना रखें 3 चीजें वास्तु शास्त्र?

0

दोस्तों तुलसी को हिंदू धर्म में सबसे पवित्र पौधा माना जाता है। जिस घर में तुलसी का पौधा होता है जहां नित्य उसकी पूजा की जाती है ऐसे घर से क्लेश और दरिद्र ता कोसों दूर रहती है क्योंकि जहां तुलसी का वास है वही देवी-देवताओं का निवास होता है।तुलसी के पौधे के पास भूल से भी ना रखें 3 चीजें वास्तु शास्त्र?

तुलसी के पौधे के पास भूल से भी ना रखें 3 चीजें वास्तु शास्त्र?

दोस्तों तुलसी एक ऐसा पौधा है जो वैज्ञानिक और आध्यात्मिक दृष्टिकोण से सबसे महत्वपूर्ण है। रोज तुलसी के पत्ते खाने से व्यक्ति कई प्रकार की बीमारियों से स्वयं रक्षा करती है और जिस घर की महिलाएं रोज सुबह स्नान करके तुलसी की पूजा करके उसे जल देती है तो ऐसी महिलाएं सदा सुहागन रहती है और इनके इस पुण्य कर्म के कारण घर में सुख शांति और समृद्धि आती है। जिस घर की महिलाएं तुलसी की पूजा नहीं करती ऐसे घर में सदा क्लेश रहता है और पैसे की तंगी से परेशान रहते हैं।

शास्त्रों में तुलसी को अत्यंत ही पवित्र पौधा माना गया है। इस पौधे पर नकारात्मक शक्ति का प्रभाव सबसे अधिक होता है। यदि इसके पास अशुभ चीजें रख दी जाए तो यह पौधा अचानक ही सूखने लगता है वहीं अगर तुलसी के पौधे को गलत दिशा में भी रख दिया जाए तो अशुभ परिणाम प्राप्त होते हैं इसीलिए घर में तुलसी का पौधा लगाने पर बहुत सावधानियां बरतनी चाहिए। अन्यथा इसका अशुभ प्रभाव देखने को मिल सकता है। आज हम जानेंगे ऐसे चीजों के बारे में जो तुलसी के पौधों के पास भूल से भी नहीं रखनी चाहिए और साथ ही जानेंगे तुलसी के पौधे के पास कौन सी चीजें रखने से शुभ और बल प्राप्त होते हैं।

दोस्तों शास्त्रों में बताया गया है कि तुलसी का पौधा भगवान श्री कृष्ण को अत्यंत प्रिय है। श्री कृष्ण भगवान तुलसी पत्र के बिना किसी प्रकार का भोग स्वीकार नहीं करते हैं तो तुलसी के सर्वप्रथम पूजा भगवान श्री हरि विष्णु ने की थी तभी से तुलसी के पौधे को सबसे अधिक पवित्र पौधा माना गया है। यह पौधा किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं करता है बल्कि इनके फायदे अनेक हैं यह घर की शोभा बढ़ाते हैं घर से नकारात्मक शक्तियों को दूर करता है साथ ही इसका सेवन करने से रोगों का नाश होता है।

तुलसी का पेड़ कब और किस दिशा में लगाना चाहिए

आइए जान लेते हैं तो उसी से जुड़ी महत्वपूर्ण बातों के बारे में अगर आपके घर में भी यह पौधा है तो आपको यह जानकारी अवश्य जान लेनी चाहिए। सबसे पहले आपको बता दें कि तुलसी का पौधा बृहस्पतिवार के दिन को लगाना चाहिए तभी शुभ फल प्रदान करता है। अन्य किसी भी दिन आप तुलसी का पौधा ला सकते हैं लेकिन इसे गमले में केबल बृहस्पतिवार को लगाएं। यह पौधा लगाने के पश्चात इस को जल देकर इस का पूजन अवश्य करें।

दूसरी बात तुलसी का पौधा हमेशा घर के मुख्य द्वार के सामने होना चाहिए इससे घर की पूर्व अथवा उत्तर दिशा में लगाना सही माना गया है। यह पौधा घर के मुख्य द्वार के सामने हो तो बड़ा इस शुभ होता है सुबह उठने के पश्चात तुलसी के पौधे के दर्शन होने पर जीवन में सौभाग्य आता है। तुलसी के पौधे से निकलने वाली सकारात्मक ऊर्जा व्यक्ति के जीवन पर प्रभाव डालती है और उसके सभी अधूरे काम पूर्ण हो जाते हैं।

तीसरी बात शाम के समय तुलसी के पौधे के पास घी का दीपक अवश्य लगाएं इससे घर में सुख समृद्धि आती है दीपक अंधेरे को नष्ट करके प्रकाश फैलाता है और घी समृद्धि का प्रतीक है इसीलिए इसे आप तुलसी के पास रखते हैं तो इसका 2 गुना फल आपको प्राप्त होगा।और उसी के पास दीपक जलाते समय दीपक के नीचे थोड़े से अक्षत अवश्य ही रखें इससे मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और घर में सुख समृद्धि आती है

तुलसी के पास कौन सी वस्तु नहीं रखनी चाहिए – वास्तु शास्त्र 

आइए अब जानते हैं तुलसी के पास कौन सी चीजें नहीं रखनी चाहिए। शास्त्रों के अनुसार तुलसी के पास कचरा नहीं रखना चाहिए। कई बार महिलाएं जल्दबाजी में कचरा इकट्ठा करके तुलसी के गमले के पास रख देती है ऐसा करना बड़ा ही हो अशुभ माना गया है। इसके साथ ही तुलसी के पौधे के पास चप्पल जूते नहीं छोड़ने चाहिए तुलसी एक पवित्र पौधा है उसके पास गंदगी रखने से उसका अपमान होता है इससे तुलसी घर से रूठ कर चली जाती है और घर में दरिद्रता आती है।

कुछ लोग जाने अनजाने मैं तुलसी के पौधे के पास अथवा गमले में शिवलिंग रख देते हैं लेकिन ऐसे गलती भूल से भी ना करें। शास्त्रों के अनुसार शिवलिंग पर तुलसी के पत्र कभी नहीं चढ़ाने चाहिए ऐसा करने से शिवजी क्रोधित हो जाते हैं इसी के साथ ही तुलसी के गमले में गणेश जी की मूर्ति भी कभी नहीं रखनी चाहिए गणेश जी की पूजा में भी तुलसी पत्र वर्जित है। अगर किसी महत्वपूर्ण काम पर जा रहे हैं तो तुलसी के पौधे की 11 बार परिक्रमा करें। अगर विवाह के लिए रिश्ता देखने जा रहे हैं तो तुलसी के पौधे की सात बार परिक्रमा करके जाएं और अगर परीक्षा देने जा रहे हैं तो तुलसी के पौधे की 5 बार परिक्रमा करके जाएं इससे कार्यों में सफलता अवश्य मिलती है

तुलसी के पेड़ से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी 

अगर कोई व्यक्ति बीमार है तो रोज तुलसी के 5 पत्ते अवश्य खाए क्योंकि इसे खाने से उसकी बीमारी जल्द ही समाप्त हो जाएगी। कार्तिक महीने में तुलसी की पूजा से जीवन में सकारात्मक बदलाव आते हैं लेकिन इसके लिए सही विधि से तुलसी की पूजा करनी चाहिए क्योंकि गलत तरीके से की गई उपासना लाभ के बजाय हानि भी पहुंचा सकती है।

ध्यान रहे तुलसी के पत्ते हमेशा सुबह के समय ही तोड़ने चाहिए रात्रि में तुलसी के पत्ता तोड़ना अशुभ होता है। शास्त्रों में कहा गया है कि तुलसी के पत्ते कभी बासी नहीं होते हैं इसीलिए पुराने पत्तों का प्रयोग भी पूजा में किया जा सकता है यदि आप इन सभी नियमों का पालन करते हैं तो आपको तुलसी के कई लाभ प्राप्त होंगे और आपके जीवन में सुख समृद्धि आएगी।

यह 9 काम करोगे तो कभी भी गरीब नहीं रहोगे ?

श्री कृष्ण कहते है इन 5 चीजें दान करने से भयंकर गरीबी आती है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here