दही खाने के फायदे Benefit of eating curd.

0
227

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे बहुत ही सुपर फूड curd यानी दही के बारे में बात करेंगे. दोस्तों आयुर्वेद के अनेकों ग्रंथों के अनुसार दही के अनोखे फायदे बताए गए हैं पर दही खाने से पूरी तरह से हमारे शरीर को लाभ तभी मिलती है जब हम इसका सेवन सही तरीके से और सही समय पर करेंगे. तो फ्रेंड्स आज हम जानेंगे की दही खाने का सही समय क्या है यानी कि किस वक्त दही खाना चाहिए और कब नहीं खाना चाहिए, दही खाने का सबसे सही तरीका क्या है, दही खाने के फायदे और नुकसान, दही खाने के फायदे Benefit of eating curd.

दही खाने के फायदे Benefit of eating curd.

दोस्तों दही का उपयोग लगभग हर घर में होता है और दही पोषक तत्वों से भरपूर है इसलिए इसे सुपर फूड की श्रेणी में रखा जाता है.  दही में प्रोटीन कैल्शियम, मैग्नीशियम ,जिंक, आयरन और फास्फोरस पाया जाता है इसके साथ-साथ इसमें विटामिन ए, विटामिन B6, विटामिन B12 , विटामिन डी और प्रमुख फैटी एसिड पाया जाता है इन पोषक तत्वों के वजह से ही दही को हेल्दी डाइट का हिस्सा माना जाता है.

गर्मी हो या सर्दी दोनों ही मौसम में दही का सेवन करना चाहिए और खासकर गर्मियों के मौसम में दही का जरूर सेवन करना चाहिए. इससे हमारे शरीर को ठंडक मिलती है. चलिए हम सबसे पहले बात करते हैं की दही खाने का सबसे सही समय क्या है

दही खाने का सही समय

दोस्तों दही का सेवन सुबह या फिर दोपहर के समय ही करना चाहिए यह दही खाने का सबसे अच्छा समय होता है. आयुर्वेद के अनुसार दही शाम या सूर्य ढलने के बाद नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसकी तासीर ठंडी होती है और दही कफ वर्धक होता है इसलिए इसका रात में सेवन करने से आपको पित्त और कफ बनने की समस्या बढ़ सकती है इसलिए रात को दही खाने से बचे.

अगर फिर भी आप को दही खाना हो तो आप दही में थोड़ा शक्कर डालकर खाने से इससे आपको पित्त दोष की समस्या नहीं होगी. एक और बात का हमेशा ध्यान रखे दोस्तों कभी भी धूप से आकर के तुरंत दही का सेवन नहीं करना चाहिए. यह तो मैंने आपको बताया कि दही खाने का सही समय क्या है चलिए अब हम बात करते हैं दही खाने का सही तरीका क्या है

दही खाने का सही तरीका

आयुर्वेद के अनुसार दही खाने का सबसे अच्छा तरीका है दही में आप कुछ मिलाकर खाएं. दही को कुछ मीठी चीजों के साथ मिलकर खाएं जैसे दही में शक्कर ,मिश्री , शहद या फिर गुड़ जो केमिकल फ्री हो उसे डाल कर खा सकते हैं पर दही में भुलकर भी चीनी डालकर ना खाएं क्योंकि उसमें बहुत केमिकल्स होते हैं जो दही की गुणवत्ता को कम कर देते हैं.

इसके अलावा आप दही को नमकीन बनाकर भी खा सकते हैं. आप दही में टेबल साल्ट न डालकर काला नमक या फिर सेंधा नमक डालकर खाएं असल में दही नेचुरल प्रॉपर्टी होता है यानि उसमें गुड बैक्टीरिया मौजूद होते हैं जो हमारे अंदर जाकर के एंजाइम सेक्रेशन को मदद करता है और यदि आप दही में टेबल साल्ट यानी जिसमें बहुत ही केमिकल होते हैं अगर दही में यह नमक डाल देते हैं तो उसमें मौजूद सभी बैक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं जो कि हमारे हेल्थ के लिए बिल्कुल फायदेमंद नहीं होता.

जिन लोगों को जोड़ो में दर्द की शिकायत रहती हो या फिर दही खाने से सर्दी हो जाती है तो फिर उन्हें दही में काला नमक, काला मिर्च पाउडर, जीरा पाउडर, हींग पाउडर या फिर दालचीनी पाउडर डालकर खाना चाहिए इससे दही की ठंडी तासीर बदल जाती है.दही का सेवन आप छाछ, लस्सी, लौकी डालकर रायता या फिर दही चावल के रूप में भी कर सकते हैं यह भी आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होगा.

दोस्तों दही हमेशा देसी गाय की दूध से घर में बनी हुई ताजी दही और नेचुरल दही का सेवन करना चाहिए , फ्रिज में रखी हुई दही का सेवन नहीं करना चाहिए. यदि दही को मिट्टी के बर्तन में जमा करके खाते हैं तो इससे आपको और भी ज्यादा लाभ होगा. फ्रेंड्स दही के ऊपर जो हल्का पानी होता है उसे फेंकना नहीं चाहिए उसे दही में मिलाकर खाना चाहिए. एक बात का हमेशा ध्यान दें दही को कभी भी गर्म करके नहीं खाए और खट्टी दही का सेवन भूल करके भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे आपको एसिडिटी ,छाती में जलन ,उल्टी जैसी समस्या हो सकती है.

कभी भी दही आधा जमा हुआ नहीं खाना चाहिए यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही खतरनाक होता है और इससे स्क्रीन प्रॉब्लम्स भी हो सकती है अब मैं आपको बताता हूं कि दही का सेवन किन चीजों के साथ मिलकर भूल से भी सेवन नहीं करना चाहिए.

दही का सेवन इन चीजों के साथ न करें

दही का सेवन कभी भी दूध या दूध से बनी हुई चीजों के साथ नहीं करनी चाहिए. जैसे घी के साथ नहीं करना चाहिए. दही केला ,तरबूज ,खीर,मूली ,कटहल खट्टे फ्रूट्स चीजों के साथ यानी लेमन या संतरे के साथ भी नहीं खाना चाहिए. इसके अलावा फिर दही कोल्डड्रिंक या फिर नॉनवेज के साथ कभी भी नहीं करना चाहिए. खासकर फिश के साथ दही खाने से भयंकर नुकसान होता है.

दोस्तों दही को घर पर आसानी से जमा सकते हैं इसके लिए दूध को गुनगुना गर्म करके इसमें थोड़ा सा खट्टा यानी जामवन डाल दे और फिर उसे चम्मच से अच्छी तरह से मिक्स कर दे और उस दूध को किसी अच्छे बर्तन से टक्कर किसी गर्म जगह पर 5 से 6 घंटे के लिए रख दें. आप देखेंगे कि उन 5 से 6 घंटे में दही अच्छी तरह से जम जाएगा. दोस्तों यदि सर्दियों का मौसम रहे तो दूध को थोड़ा ज्यादा गर्म करें और खट्टा भी थोड़ा ज्यादा डालें चलिए फ्रेंड साहब हम लोग बात करते हैं कि दिन भर में कितना दही का सेवन करना चाहिए

दही का सेवन कितना करना चाहिए

दोस्तों आप गर्मियों के दिनों में 200 से 300 ग्राम के बीच तक दही का सेवन कर सकते हैं और सर्दियों के मौसम में डेढ़ सौ ग्राम दही का सेवन कर सकते हैं. चलिए अब हम बात करते हैं दही खाने से क्या-क्या जबरदस्त फायदे होते हैं

दही खाने के फायदे एवं लाभ

दही हमारे पाचन शक्ति को बढ़ाने में मदद करती है. दही में गुड बैक्ट्रिया होते हैं जो हमारे पेट को स्वस्थ रखने में मदद करता है. भोजन के साथ दही का सेवन करने से हमारा पेट भारी नहीं होता इसके साथ साथ यदि आप दोपहर के खाने में दही के बने छाछ में थोड़ा सा काला नमक और अजवाइन का पाउडर मिलाकर के पीते हैं तो कब्ज बवासीर की समस्या में राहत मिलेगा.

दोस्तों दही में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है इसके साथ-साथ इसमें मैग्नीशियम तथा फास्फोरस जैसे महत्वपूर्ण तत्व पाए जाते हैं जो हड्डियों की मजबूती के लिए बेहद ही मददगार होते हैं. इसके अलावा अगर आपके मुंह में छाले हो जाते हैं तो छालों से राहत पाने का सबसे अच्छा घरेलू नुस्खा है दही.   मुंह में छाले होने पर सादी दही से दिन में 3 से 4 बार कुल्ले लेकर लेने से मुंह में छाले समाप्त हो जाते हैं.

दही में प्रोटीन,पोटेशियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हृदय को स्वस्थ रखने में बेहद ही जरूरी होता है. इसके अलावा दही का सेवन करने से हाई कोलेस्ट्रॉल कम होता है जिससे हृदय रोगों की खतरा कम हो जाता है. गर्मियों के मौसम में लू लगने से शरीर का तापमान बढ़ जाता है और शरीर में डिहाइड्रेशन हो जाता है इसलिए आयुर्वेद के अनुसार लू लगने से चीजों का सेवन करने से शरीर को ठंडक मिलती है और इससे हमारे शरीर हाइड्रेटेड रहती है.

दही खाने के फायदे Benefit of eating curd.

दही में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में काफी मदद करता है. इसके अलावा दही में मौजूद प्रोटीन से पेट लंबे समय तक भरा हुआ महसूस होता है जिससे वजन कम करने में सहायता मिलती है. दही में ऐसी बेहतरीन एंटीएक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो हमारी त्वचा को बहुत ही सेहद मंन रखने में मदद करते हैं इसलिए दही का सेवन करने से हमारे स्किन चमकदार तो होती ही है साथ ही साथ दही में थोड़ा सा शहर या बादाम तेल मिलाकर लगाने से हमारी स्किन से डेड सेल्स निकल जाते हैं जिससे स्क्रीन बहुत ही फेयर और चमकदार हो जाती है.

इसके अलावा दही बालों को हेल्दी बनाने में बहुत ही मददगार होती है. बालों की जड़ों में दही लगाने से बालों की झड़ने की समस्या कम हो जाती है इसके साथ-साथ दही बालों के लिए एक बेहतरीन कंडीशनर है इससे बाल बेहद मुलायम और चमकदार होते हैं और अगर आपको बहुत ही ज्यादा डैंड्रफ की शिकायत हो तो दही में थोड़ा नींबू डालकर लगाए बालो के स्केप्प में लगाऐ इससे आपको डेंडरफ से छुटकारा मिलेगा आपकी बाल बहुत ही स्किल हो जाएगी.

दोस्तों कुछ महिलाओं को यूरिन कक्ष में प्रॉब्लम होती है तो उससे छुटकारा पाने के लिए दही एक बेहतरीन उपचार है दही के साथ गुड या फिर मिश्री डालकर खाने से यूरिन कक्षा में प्रॉब्लम महिलाओं को आराम मिलती है क्योंकि दही हमारे टॉक्सिन को यूरिन के थ्रू बाहर निकालता है. इसके अलावा दही और गुड़ खाने से शरीर को तुरंत एनर्जी मिलती है क्योंकि दही में मिनरल्स होते हैं जो की दही एनर्जी बुस्टर की तरह काम करते हैं इसके साथ साथ दही का सेवन करने से दिमाग शांत रहता है यानि मानसिक तनाव कम होता है क्योंकि दही में विटामिन बी12 अच्छी मात्रा में होता है जो दिमाग की सेहत के लिए बहुत ही अच्छी होता है.

दही के सेवन के नुकसान 

यह तो मैंने आपको बताया कि दही का सेवन करने से हमें क्या-क्या लाभ मिल सकते हैं पर दोस्तों आपको पता होगा कि हम किसी भी चीज का सेवन जरूरत मात्रा से ज्यादा में करते हैं तो वह फायदे की जगह नुकसान भी कर सकता है जी हां दही में लैक्टोज होता है यदि आप दही का ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं तो इससे आपको पेट दर्द, सूजन ,कब्ज और उल्टी जैसी समस्या हो सकती है.

इसके अलावा जिन लोगों को अर्थराइटिस यानी गठिया का शिकायत हो अस्थमा का पेशेंट हो उन्हें खास करके सर्दियों के मौसम में दही का सेवन करने से परहेज करना चाहिए. इसके अलावा कुछ लोगों को लेक्टोज से एलर्जी होती है तो उन्हें भी दही का सेवन नहीं करना चाहिए और अगर यदि आप डायबिटीज के पेशेंट है तो आप मीठे दही का सेवन करने से बचे नहीं तो समस्या बढ़ सकती है. एक और बात का ध्यान दे दोस्तों अगर आप को ज्यादातर एसिडिटी की समस्या रहती हो तो आपको भूल कर के भी दही का सेवन नहीं करना चाहिए धन्यवाद.

जामुन खाने के फायदे जानें – Benefit of eating BlackBerry.

अंजीर खाने के सेहत में फायदे Benefit of eating fig.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here